फुर्तीला कैसे बने? bitcoin4buying

क्या आप भी अपने शरीर को मजूत बनाना चाहते हैं और जानना चाहते हैं की फुर्तीला कैसे बने? तो ये आर्टिकल के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होने वाला है. 

बॉडी को फुर्तीला रखना बहुत ही जरूरी है क्योंकि आप अपने हर एक कार्य अच्छी पूर्वक तभी कर सकते हो जब आपका शरीर एक्टिव हो. इस आर्टिकल के माध्यम से बॉडी को एक्टिव करने के कई तरीके बताने जा रहे हैं.

शरीर को एक्टिव कैसे बनाएं? 

आज की जनरेशन में लोग अपने कार्यों के प्रति इतना व्यस्त हो चुके हैं कि अपने शरीर के ऊपर ध्यान ही नहीं देते इसलिए आजकल के दिन में विभिन्न लोगों को कई प्रकार की बीमारी हो रही है.

इसका कारण बस यही है कि वह अपने शरीर को फुर्तीला नहीं बनाते बल्कि एक्सरसाइज के समय में भी वह अपने कार्य को करते हैं.

बॉडी को एक्टिव करना मतलब अपने कार्यों को सफलतापूर्वक करना होता है क्योंकि आप तभी अपने कार्यों को अच्छे ढंग से कर पाएंगे जब आपकी बॉडी हेल्थी और चुस्त-दुरुस्त हो.

शरीर को स्वस्थ रखने से हमारे बॉडी का हर एक पार्ट फुर्तीला रहता है जिससे हम कोई भी कार्य को रुचि पूर्वक कर सकते हैं.

जब हमारा शरीर स्वस्थ रहता है तो इससे हमारे मस्तिष्क और मन दोनों प्रसन्न होते हैं. जब हमारा मस्तिष्क शांति महसूस करता है उस वक्त हम कठिन से कठिन कार्य को आसानी पूर्वक करने में सक्षम हो पाते हैं.

इसलिए जहां तक संभव हो अपने शरीर को फुर्तीला रखने का प्रयास करें. क्योंकि फुर्तीला शरीर आपके कार्यों के समानुपाती होता है जिससे आपका हर एक कार्य अच्छे ढंग से हो सके.

1. कसरत करें:- 

यदि आप अपने बॉडी को एक्टिव बनाना चाहते हो और हर एक कार्य को फुर्तीले तरीके से करना चाहते हो तो इसके लिए आपको कसरत करने की आवश्यकता है.

जब आप कसरत करोगे तो कसरत करने से आपकी बॉडी एक्टिव होगी जिससे आपका मस्तिष्क भी एक्टिव रहेगा.

आपको यह प्रयास करनी चाहिए कि आप सूर्योदय से पहले उठ जाए और अपनी कसरत की प्रक्रिया शुरू करें. 

जब सूर्योदय होता है उस दौरान उगते हुए सूर्य को देखना बहुत ही भाग्यशाली माना जाता है क्योंकि उगते हुए सूर्य को देखने से लोगों के अंदर एक पॉजिटिव एनर्जी का उत्सर्जन होता है और इस एनर्जी से लोगों के मन और विचार दोनों में बदलाव आता है.

एक्सरसाइज करने से लोगों की कई बीमारियां भी दूर होती है इसलिए हर एक व्यक्ति को सुबह एक्सरसाइज करने की आदत डालनी चाहिए. 

इस प्रक्रिया को करने से लोगों  का मोटापा में कमी आता है तथा बॉडी में ब्लड सरकुलेशन की प्रक्रिया अच्छी तरीके से होता है इससे हमारा शरीर चुस्त और दुरुस्त रहता है.

आप एक्सरसाइज की प्रक्रिया अपने घर में भी कर सकते हो या फिर जिम में जाकर इस एक्सरसाइज को किया जा सकता है.

2. रनिंग करें:- 

बॉडी को फिट रखने के लिए रनिंग करना बहुत ही जरूरी है इससे आपके बॉडी की हर एक पाठ एक्टिव रहेगी. आप रनिंग की प्रक्रिया सुबह और शाम दोनों समय कर सकते हैं.

जब प्रत्येक दिन आप इस प्रक्रिया को करते हैं तो आपका शरीर अन्य लोगों की अपेक्षा फिट रहती है जिससे आप का लुक परफेक्ट दिखता है.

रनिंग करके बॉडी को फिट रखना एक बहुत ही बेहतर तरीका है जिसे हर लोगों को अपने दैनिक जीवन में अपनाना चाहिए तभी हर एक व्यक्ति का शरीर चुस्त-दुरुस्त रह पाएगा. इस प्रक्रिया को आप अपने घर के आस-पास के फील्ड में कर सकते हो या फिर गार्डन में भी रनिंग प्रक्रिया किया जा सकता है.

3. जोगिंग करें:- 

कसरत करने के अन्य तरीकों में जोगिंग करना भी बहुत ही अच्छी एक्सरसाइज है, जोगिंग वे व्यक्ति करते हैं जिनको रनिंग करने में प्रॉब्लम होती है.

खासकर बूढ़े व्यक्ति और महिलाएं रनिंग की अपेक्षा जोगिंग करना पसंद करते हैं और वे प्राया: सुबह शाम अपने बॉडी को जोगिंग करके फिट रखते हैं. 

जोगिंग के दौरान लोगों की बॉडी में लचीलापन होती है जिससे उनका शरीर हर तरह के कार्यों को करने के लिए सक्षम रहता है.

जोगिन की प्रक्रिया लोग प्राया सुबह और शाम दोनों समय में करते हैं लेकिन सुबह करने से लोगों को स्वच्छ वातावरण में स्वच्छ हवाएं लेने का अवसर मिलता है जिसमें शुद्ध ऑक्सीजन उन्हें जोगिंग करने के द्वारा प्राप्त होता है.

जिससे उनकी श्वसन प्रक्रिया भी काफी बेहतर रहती है.

4. पैदल चलने की आदत डालें:- 

पैदल चलना लोगों के शरीर के लिए बहुत ही अच्छा साबित होता है इसलिए अपने अनुसार लोगों को जहां तक संभव हो पैदल चलने का प्रयास करना चाहिए.

जो लोग ऑफिस तथा दफ्तर में काम करते हैं वे प्राया: अपने कामों को चेयर में बैठकर करते हैं जिससे उनका मोटा पन बढ़ता चला जाता है, और बहुत से ऐसे लोग हैं जो अपने मोटा पन के वजह से बहुत परेशान होते हैं.

उन लोगों को खासकर गाड़ी और रिक्शे की बजाय पैदल चलने की आदत डालनी चाहिए तभी उनका इस परेशानी का समाधान निकल पाएगा.

आजकल की जनरेशन में बच्चों से लेकर बड़े लोगों को कम दूरी या ज्यादा दूरी तय करनी होती है तो वह अक्सर साइकिल या बाइक का प्रयोग करते हैं इस दौरान वे पैदल चलना छोड़ चुके हैं.

हर एक व्यक्ति को इन सभी वाहनों में सफर करने के बजाए कुछ दूर पैदल भी चल कर जाना चाहिए जिससे उनका शरीर एक्टिव हो सके.

5. खाना खाने के बाद थोड़ा चले:-

बहुत से ऐसे व्यक्ति हैं जो खाना खाने के बाद रेस्ट करने के लिए बेड में बैठ जाते हैं या तो लेट जाते हैं इन सभी चीजों से लोगों का मोटापा बढ़ता है और लोग आलसी होते चले जाते हैं. आदतों की वजह से लोगों की बॉडी फिट नहीं रह पाती वह दिन प्रतिदिन आलसी होते चले जाते हैं.

इसलिए जहां तक संभव हो खाना खाने के बाद थोड़ी देर टहले , टहलने से आपके अंदर का आलस पन दूर होगा और आप फुर्तीला महसूस करोगे.

6. नींद पूरा ले:- 

हर एक व्यक्ति को नींद पूरी करनी चाहिए, प्रत्येक व्यक्ति को लगभग 8 से 10 घंटे के नींद लेनी चाहिए.

क्योंकि नींद पूरा होने से हमारा मस्तिष्क शांत महसूस करता है और हमारे दिमाग में ज्यादा प्रेशर नहीं बनता इससे हमारा दिमाग किसी भी चीज को तुरंत कैच करने में सक्षम होता है.

बहुत से विद्यार्थी अपनी पढ़ाई के प्रेशर में लिमिटेड नींद लेते हैं जो अच्छी बात नहीं है हम लोगों को आवश्यकता अनुसार नींद पूरी करनी जरूरी है तभी हमारा दिमाग और मन रिलैक्स फील करेगा. 

जो लोग अच्छी नींद लेते हैं उनका फेस चमकता है और उनकी आंख बहुत ही सुंदर प्रतीत होती है उन्हें फ्रेशनेस फील होता है . जब व्यक्ति अच्छी पूर्वक नींद लेता है तभी वे शर्करा जैसे पदार्थों का सेवन से वंचित रह पाते हैं.

7. ज्यादा मुस्कुराए:- 

ज्यादा हंसना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छा साबित होता है क्योंकि जो लोग मुस्कुराते रहते हैं उनका मन खुश होता है.

आप जितना ज्यादा मुस्कुराओगे आपका बॉडी उतना ही स्वस्थ रहेगा क्योंकि वैज्ञानिकों द्वारा यह साबित किया गया है कि जो लोग जितना मुस्कुराते हैं उनका शरीर इतना फुर्तीला रहता है. 

डॉक्टरों के द्वारा भी यह सलाह दी जाती है कि ज्यादातर हंसते रहिए क्योंकि हंसने से हमारी बॉडी एक्टिव रहती है.

8. पानी पिए:- 

पानी हमारे शरीर के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण मानी जाती है क्योंकि हम जितना ज्यादा पानी पीते हैं हमारा शरीर उतना स्वस्थ रहता है, इसलिए अपने बॉडी को फिट रखने के लिए प्रत्येक दिन लगभग 8 से 9 क्लास पानी पीना चाहिए.

यदि आपके शरीर में पानी की कमी है तो इससे आपको अनेक प्रकार के दर्द होंगे जैसे सिरदर्द, बदन दर्द, तथा बॉडी में पानी की कमी से बहुत प्रकार की बीमारियां भी होती है. इसलिए हर एक व्यक्ति को ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करना चाहिए.

9. फल और हरी सब्जियों का सेवन करें:-

बॉडी को चुस्त और दुरुस्त रखने के लिए पोस्टिक आहार का सेवन करना बहुत जरूरी है क्योंकि प्रोटीन और वसा युक्त भोजन खाने से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है.

कई लोगों को आंख दर्द, बदन दर्द होती है जिसका कारण कमजोरी है इसलिए यदि हम प्रोटीन युक्त भोजन का सेवन करते हैं तो हमारी कमजोरी दूर होगी और हमारा शरीर स्वस्थ रहेगा.

जो व्यक्ति फल और हरी सब्जियों का सेवन करते हैं उन्हें इन सभी बीमारियों का सामना नहीं करना पड़ता उनके शरीर का हर एक अंग फिट रहता है. इसलिए प्रत्येक दिन फल और हरी सब्जी खानी चाहिए.

10. किसी लक्ष्य को पूरा करें:- 

जब आप अपने जीवन में छोटी-छोटी उपलब्धियों को हासिल करते हैं तो उससे आपका मन आंतरिक रूप से खुश होता है जो हमारे बॉडी के लिए बहुत ही लाभदायक है. इसलिए हम लोगों को अपने जीवन में छोटी-छोटी जीत को हासिल करनी चाहिए ताकि हमारा मन प्रसन्न रहें.

11. कुछ ऐसा करें जो आपको प्रिय हो:- 

जिस काम में आपको मन लगता है  और यदि आप उस कार्य को करते हैं तो आपका मन खुश रहता है इसलिए रुचि पूर्वक कार्य को करें.

किसी को गाना गाने में इंटरेस्ट आता है तो किसी को साइकिल चलाने में इंटरेस्ट आता है इस तरह से हर एक व्यक्ति का रुचि अलग-अलग चीजों में होता है.

अपने रुचि अनुसार कार्य को प्रत्येक दिन करें जिससे आपका मन प्रसन्न रहें इस प्रकार आपका शरीर स्वस्थ रहेगा.

12. मन को शांत रखें:-

मन को शांत रखने के लिए आपको मेडिटेशन करने की आवश्यकता है जिसमें अनेक प्रकार के क्रियाकलापों को करना होता है जिससे आपका मन एकदम शांत रहे.

कई लोग ऐसे होते हैं जिन्हें छोटी-छोटी बातों में बुरा लगता है और हर्ट हो जाते हैं इसलिए जहां तक संभव हो इस प्रकार की छोटी-छोटी बातों को नजरअंदाज करके अपने मन को प्रसन्न करने का प्रयास करना चाहिए इससे भी आपका शरीर के साथ-साथ मस्तिक भी रिलैक्स फील करेगा.

13. अपने बारे में अच्छा सोचे:- 

कभी भी अपने बारे में नकारात्मक ना सोचे जहां तक संभव हो अपने आप को सकारात्मक विचारों के साथ रखें क्योंकि हर एक व्यक्ति के पास अपना एक अलग कॉन्फिडेंस होता है इसलिए अपने आप को किसी अन्य व्यक्ति से कंपेयर करके दुखी महसूस ना करें 

प्रत्येक व्यक्ति  अपने आप में सही होता है. हर लोगों का विचार अलग-अलग कार्यों में अलग-अलग प्रकार के होते हैं इसलिए अपने विचारों को भी किसी विचार से तुलना ना करें.

जब आप अपने अंदर सकारात्मक विचारों को रखेंगे उससे आपका कॉन्फिडेंस लेवल बढ़ेगा और आपका मन खुश रहेगा. शरीर को फुर्तीला रखने के लिए यह कार्य भी बहुत जरूरी है.

14. योग करें

भारत से शुरू हुए योग की लोकप्रियता भी पुरे विश्व में हैं.

ऐसा इसलिए की इससे सिर्फ शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक व्यायाम होता है. योग बहुत ही लाभदायक है जो इंसानो द्वारा पूरी दुनिया में अपनाया गया है.

योग क्या है ये समझने के लिए हमारे लिखे आर्टिकल को जरूर पढ़ें.

निष्कर्ष

अपने शरीर को फुर्तीला रखकर कठिन से कठिन कार्य को बहुत ही आसानी पूर्वक किया जा सकता है.

स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का निवास रहता है. यही वजह है की इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बताया की फुर्तीला कैसे बने?

यदि हमारा आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो आप इसे जरूर शेयर करें.